कंपोनेंट्स ऑफ़ कंप्यूटर सिस्टम – What is a System Component

कंप्यूटर सिस्टम के कंपोनेंट्स के प्रकार (Components Of A Computer System)

जैसा कि हम जानते हैं कंप्यूटर तीन प्रकार के होते हैं एनालॉग कंप्यूटर (Analog Computer) डिज़िटल कम्प्यूटर (Digital Computer) और हाइब्रिड कम्प्यूटर (Hybrid Computer) अधिकतक डिजिटल कंप्‍यूटर ही प्रयोग में आते हैं और यहां हम डिज़िटल कम्प्यूटर (Digital Computer) के कंपोनेंट्स के बारे में बात करने वाले हैं डिजिटल कंप्यूटर के पांच मुख्‍य फंक्शनल यूनिट होती हैं –

  1. सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU)
  2. विजुअल डिस्प्ले यूनिट (VDU), कीबोर्ड और माउस
  3. अन्य इनपुट एवं आउटपुट डिवाइसेज
  4. कंप्यूटर मेमोरी
  5. हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का कांन्सेप्ट

1- सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU)

कंप्‍यूटर की संरचना (Computer Architecture) में सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) केन्‍द्र में रहता है इनपुट यूनिट (Input unit) द्वारा डाटा और निर्देशों को कंप्‍यूटर में एंटर किया जाता है और इसके बाद सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) डाटा को प्रोसेस करता है और आपको आउटपुट देता है, डाटा को प्रोसेेस करनेे में यह अपने दो भागोंं की मदद लेता है अर्थमेटीक लॉजिक यूनिट (Arithmetic Logic Unit ) और कंट्रोल यूनिट (Control Unit) –

Read More..

2- विजुअल डिस्प्ले यूनिट (VDU),कीबोर्ड और माउस

मॉनिटर ( Monitor ) – 

मॉनिटर क्या है – What is Monitor in Hindi
मॉनिटर (Monitor) एक प्रकार की आउटपुट डिवाइस है मॉनिटर (Monitor) को विजुअल डिस्प्ले यूनिट भी कहा जाता है, देखने में आपके टीवी की तरह होता है, लेकिन कंप्‍यूटर के लिये बहुत महत्‍वपूर्ण और जरूरी होता है इसके बिना आप कंम्‍यूटर पर काम ही नहीं कर पायेगें आईये जानते हैं मॉनिटर क्या होता है और मॉनिटर कितने प्रकार के होते है  What is Monitor in Hindi

मॉनिटर कितने प्रकार के होते है – तीन प्रकार के
CRT Monitor
LCD (Liquid Crystal Display)
LED (Light Emitting Diode)

Read More..

माउस ( Mouse ) – 

माउस क्या है – What is Mouse
Information about computer mouse definition and history
कंप्यूटर माउस क्या होता है: Mouse एक छोटी इनपुट डिवाइस होती है जो की ग्राफिकल इंटरफ़ेस मे कर्सर या पॉइंटर को मूव करने के काम आती है| माउस को use करके पॉइंटर को मूव करते हुए टेक्स्ट, icons, फाइल्स, फ़ोल्डर्स एवं बटन्स को select किया जा सकता है | जैसे जैसे आप माउस को मूव करते है डिस्प्ले स्क्रीन पर पॉइंटर भी एक डायरेक्शन से दूसरी डायरेक्शन मे मूव करता है|

Read More

कीबोर्ड ( Keyboard ) –

कीबोर्ड के बारे मेें जानकारी – Important information about the keyboard

Bank Exams IBPS PO , MT Exam, Bank PO, Clerk, SBI, RBI, CLAT, CTET and other competitive exams में Computer Awareness यानि कंप्यूटर जागरूकता से जुडें प्रश्‍न जरूर पूछे जाते हैं इस वीडीयो में हमने Keyboard से जुडे Computer Awareness की जानकारी दी है जो सभी competitive exams के बहुत जरूरी है तो अगर competitive exams की तैयारी कर रहे हैैं तो Keyboard के बारे में जाने ये बातें –

की-बोर्ड कंप्यूटर का एक पेरिफेरल है जो आंशिक रूप से टाइपराइटर के की-बोर्ड की भांति होता हैं| की-बोर्ड को टेक्स्ट तथा कैरेक्टर इनपुट करने के लिये डिजाइन किया गया हैं| भौतिक रूप से, कंप्यूटर का की-बोर्ड आयताकार होता हैं| इसमें लगभग 108 Keys होती हैं| की-बोर्ड में कई प्रकार की कुंजियाँ (Keys) होती है जैसे- अक्षर (Alphabet), नंबर (Number), चिन्ह (Symbol), फंक्शन की (Function Key), एर्रो की (Arrow Key) व कुछ विशेष प्रकार की Keys भी होती हैं|

Read More

 

3- इनपुट एवं आउटपुट डिवाइसेज

आउटपुट डिवाइस (Output Device)

आउटपुट डिवाइस:- आपके द्वारा दी गयी कंमाड के अाधार पर प्रोसेस की गयी जानकारी का आउटपुट कंप्‍यूटर द्वारा आपको दिया जाता है जो आपको आउटपुट डिवाइस या आउटपुट यूनिट द्वारा प्राप्‍त हो जाता है आउट डिवाइस हार्डवेयर होता है आउटपुट डिवाइस सबसे बेहतर उदाहरण आपका कंप्‍यूटर मॉनिटर है यह i/o devices कहलाती है –

आउटपुट डिवाइस (Output Device)

मॉनिटर ( Monitor )
स्पीकर
प्रिन्टर
प्रोजेक्टर
हेडफोन
प्रिटंर ( Printer )

Read More…..

इनपुट डिवाइस (Input Device)

इनपुट डिवाइस इनपुट डिवाइस इस होती हैं जिनसे कंप्यूटर में डेटा और कमांड स्‍टोर या एंटर कराया जा सकता है इनपुट डिवाइस मेन मेमोरी में स्टोर किए गए डेटा और निर्देशों को बायनरी में कन्वर्ट कर देती है आईये जानते है इनपुट डिवाइस (Input Device) के बारे में

इनपुट डिवाइस (Input Device)
आपका सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले इनपुट डिवाइस कीबोर्ड है जिसकी मदद से आप कंप्यूटर पर बड़े आसानी से टाइप कर पाते हैं इनपुट डिवाइस का काफी विकास हो चुका है जिनमें डाटा को टाइप करने की जरूरत नहीं पड़ती है इस प्रकार की कुछ डिवाइसेस आपका माउस है लाइट पेन है ग्राफिक टैबलेट है जॉय स्टिक है ट्रैकबॉल है और टच स्क्रीन है यह सभी डिवाइस इस यूजर को मॉनिटर स्क्रीन पर आवश्यक चीजों को सिर्फ पाइंट करके सेलेक्ट करने की स्वतंत्रता प्रदान करती हैं इसलिए इन इनपुट डिवाइस को Pointing device भी कहा जाता है आजकल तो इनपुट डिवाइस का काफी उच्च स्तर पर इस्तेमाल हो रहा है यहां तक कि आपको टाइप करने की आवश्यकता नहीं है केवल बोलने से वॉइस इनपुट रिकग्निशन टेक्नोलॉजी की सहायता से टाइप कर सकते हैं यह वह हार्डवेअर डिवाइस होती है जिसे हमें कम्प्यूटर से कोर्इ भी डाटा या कमाण्‍ड इनपुट करा सकते हैं।

माऊस
की-बोर्ड
स्केनर
डी.वी.डी.ड्रार्इव
पेनड्रार्इव
कार्डरीडर
माइक्रोफोन
वॉइस इनपुट रिकग्निशन सिस्टम (Voice Input Recognition System)
ओएमआर (OMR)
एमआईसीआर (MICR)

Read More

4 – कंप्‍यूटर मैमोरी ( Computer Memory )

कंप्यूटर मेमोरी क्या है – What is Computer Memory in Hindi
कंप्यूटर मेमोरी (Computer Memory) कंप्‍यूटर की संरचना के अनुसार कंप्यूटर का वह भाग है यूजर द्वारा इनपुट किये डाटा और प्रोसेस डाटा को स्‍टोर करती है, मेमोरी (Memory) कम्प्यूटर का बुनियादी घटक है आईये जानते हैं कंप्यूटर मेमोरी क्या है – What is Computer Memory in Hindi
कंप्यूटर मेमोरी क्या है – What is Computer Memory in Hindi
वैसे तो CPU को कंप्यूटर का मस्तिष्क कहा जाता है, लेकिन जहां मनुष्‍य का मस्तिष्‍क बहुत सारे काम करने के साथ-साथ हमारी यादों को भी सुरक्षित रखने का काम करता है वहीं सीपीयू (CPU) केवल अंकगणितीय गणना (Arithmetic Calculation) और तार्किक गणना कर इनपुट डाटा को प्रोसेस करता है, प्रोसेस डाटा को सुरक्षित नहीं रख सकता है, अब उस प्रोसेस डाटा को कहीं सुरि‍क्षित भी रखना होता है, तो इस कार्य जिम्‍मा कंप्यूटर मेमोरी (Computer Memory) के पास होता है, कंप्यूटर मेमोरी को बहुत सारे छोटे भागों में बाँटा गया है, जिन्हें हम सेल कहते हैं। प्रत्येक सेल का यूनिक एड्रेस या पाथ होता है। आप जब भी कोई फाइल कंप्‍यूटर में सुरक्षित या सेव करते हैं तो वह एक सेल में सेव होती है-
Read More

प्राइमरी मेमोरी ( Primary Memory )

प्राइमरी मेमोरी क्‍या होती है – What Is Primary Memory in Hindi
कंप्‍यूटर की संरचना के अनुसार मेमोरी (Memory) कंप्यूटर का वह भाग है यूजर द्वारा इनपुट किये डाटा और प्रोसेस डाटा को संगृहीत करती है, मेमोरी (Memory) में डाटा, सूचना, एवं प्रोग्राम प्रक्रिया के दौरान उपस्थित रहते है और आवश्यकता पड़ने पर तत्काल उपलब्ध रहते है इसे प्राथमिक मेमोरी या मुख्य मेमोरी भी कहते हैं आईये प्राइमरी मेमोरी (Primary Memory) के बारे में अधिक जानते हैंं –
प्राइमरी मेमोरी क्‍या होती है – What Is Primary Memory in Hindi
प्राइमरी मेमोरी (Primary Memory) दो प्रकार की होती है –
a. रैम (RAM) यानि Random Access Memory
b. रोम (ROM) यानि Read Only Memory

1- रैम (Random Access Memory)
इस मेमोरी (Memory) को कंप्‍यूटर की अस्‍थाई मेमोरी भी कहते हैं इसमें कोई भी डाटा स्‍टोर नहीं रहता है जब तक कंप्‍यूटर ऑन रहता है तब तक रैम में डाटा या प्रोग्राम अस्थाई रूप से संगृहीत रहता है और
Read More..

 

सेकेंडरी मेमोरी ( Secondary Memory )

सेकेंडरी मेमोरी क्‍या होती है – What is Secondary Memory in Hindi
सेकेंडरी मेमोरी (Secondary Memory) के नाम से ही पता चलता है कि यह कंप्‍यूटर की प्राइमरी मेमोरी (Primary Memory) से अलग होती है यानि यह आन्तरिक (Internal) भाग नहीं होती है, सेकेंडरी मेमोरी (Secondary Memory) को कंप्‍यूटर में अलग से जोडा जाता है इसे कंप्यूटर की द्वितीय मेमोरी (Secondary Memory) भी कहा जाता है तो आईये जानते हैं कंप्यूटर की सेकेंडरी मेमोरी क्‍या होती है – What is a Secondary Memory in Hindi
कंप्यूटर की सेकेंडरी मेमोरी क्‍या होती है ? – What is Secondary Memory in Hindi

सेकेंडरी मेमोरी (Secondary Memory) को अलग से जोडा जाता है और यह स्‍टोरेज के काम आती है तो इसे सेकेंडरी स्टोरेज डिवाइस भी कहते हैं, प्राइमरी मेमोरी (Primary Memory) के अपेक्षा इसकी गति कम होती है लेकिन…
Read More..

रजिस्टर मेमोरी ( Register Memory )

रजिस्टर मेमोरी क्‍या है – What is Register Memory in Hindi
रजिस्टर मेमोरी (Register Memory) भी कंप्यूटर मेमोरी (Computer Memory) का ही एक भाग है रजिस्टर मेमोरी (Register Memory) CPU में रजिस्टर के रूप में स्थित होती है तो आईये जानते हैं रजिस्टर मेमोरी क्‍या है – What is Register Memory in Hindi
रजिस्टर मेमोरी क्‍या है – What is Register Memory in Hindi
रजिस्टर मेमोरी (Register Memory) को रजिस्‍टर भी कह सकते हैं, रजिस्टर मेमोरी कंप्यूटर में सबसे छोटी और सबसे तेज मेमोरी होती है, रजिस्टर मेमोरी का साइज 16, 32 और 64 Bit का होता है आप तो जानते हैं सीपीयू में..
Read More..

कैश मेमोरी ( Cache Memory )

5- हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का कांन्सेप्ट

सॉफ्टवेयर ( Software )

सॉफ्टवेयर के प्रकार – (Types of Computer Software)

सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या है (What is system software)

हार्डवेयर ( Hardware)

कंप्यूटर की हार्डवेयर संरचना (Computer hardware structure)

कंप्यूटर की कार्य प्रणाली (Computer functions)

सीपीयू के अन्‍दरूनी भाग (Parts of CPU and their Functions)

बायोस ( Bios )

कंप्यूटर बूटिंग ( Computer Booting )

प्रोग्रामिंग भाषा क्‍या है (What is programming Language)

प्रोग्रामिंग भाषा के प्रकार (Types Of Programming Language)

उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (High Level Programming Language)

मशीनी भाषा ( Machine Language )

असेम्बली भाषा ( Assembly Language )

असेम्बलर ( Assembler )

कम्पाइलर ( Compiler )

इंटरप्रेटर ( Interpreter )

कम्पाइलर और इंटरप्रेटर में अंतर ( Difference Between Interpreter and Compiler )

प्रोग्रामिंग भाषा अनुवादक ( Programming Language Translator )

लिंकर और लोडर ( linker and loader )

बाइनरी नंबर सिस्टम (Binary Number System)

फ्लोचार्ट ( Flowchart )

एल्गोरिदम ( Algorithm)

नेमोनिक कोड ( Mnemonic code )

Related posts

Leave a Comment